शिकायत
  • केवल अधिकारियों के विरुद्ध शिकायत दर्ज करायी जा सकती है जो अपने संगठन के हैं. अन्य संगठन के अधिकारियों के विरुद्ध शिकायत दर्ज नहीं करायी जा सकती है.

  • केन्द्रीय सतर्कता आयोग के दिशानिदेशों के अनुसार सतर्कता विभाग को किसी छद्म / बेनामी शिकायतों पर ध्यान देने की आवश्यकता नहीं है. तथापि, ये सूचना स्रोत के आधार पर किसी संदेहजनक सतर्कता विषय में छानबीन करने के लिए बैंक / मुख्य सतर्कता अधिकारी (सीवीओ) के अधिकारों को प्रतिबंधित नहीं करते हैं. यदि सीवीओ ऐसी शिकायतों की छानबीन करने के आदेश को उचित पाते हैं तो छानबीन की जा सकती है.

  • जब कभी वैध कारणों से कोई शिकायतकर्ता यह अनुरोध करता है कि शिकायती जाँच करने के दौरान उसकी पहचान रोक कर रखी जाए तो इसे सतर्कता विभाग द्वारा सुनिश्चित किया जाएगा.

  • शिकायत संक्षिप्त होनी चाहिए एवं उसमें तथ्यात्मक जानकारी, जाँचने योग्य सच्चाई व संबंधित बातें होनी चाहिए. वह अस्पष्ट अथवा हल्के सामान्य आरोपों वाली नहीं होनी चाहिए.

  • शिकायत सीधे सीवीओ को संबोधित होनी चाहिए.

  • सीवीओ / सतर्कता विभाग केवल उन्हीं पत्रों / शिकायतों की पावती देगा जिसे छानबीन हेतु स्वीकार किया जाएगा.

  • सतर्कता विभाग यह सुनिश्चित करेगा कि छानबीन के लिए स्वीकार की गई शिकायत को उसमें की जाने वाली कार्रवाई के तार्क;िक निष्कर्ष तक ले जाया जाएगा.